India’s No.1 Educational Platform For UPSC,PSC And All Competitive Exam
  • Sign Up
  • Login
  • 0
  • Donate Now
img
  • 0

IAS कैसे बने : आईएएस परीक्षा की तैयारी कैसे करें?

यह तो हम सभी जानते हैं कि संघ लोक सेवा आयोग (यू०पी०एस०सी०) सिविल सेवा परीक्षा आयोजित कराता है, और यह देश की एक कठिन व प्रतिष्ठित परीक्षा है। फिर भी लाखों युवा छात्र देश के कोने-कोने से इस परीक्षा की तैयारी करते हैं और एक आई०ए०एस० अफसर बनने का सपना देखते हैं। यदि हम इस परीक्षा की प्रक्रिया व प्रकृति को देखें तो हम पायेंगे कि इस परीक्षा में सफलता पाने के लिये हमें चाहिये कि हम एक सटीक रणनीति और व्यवस्था के साथ तैयारी करें। सामान्यत: एक अभ्यर्थी यदि इस परीक्षा की तैयारी स्नातक स्तर से ही शुरू कर दें तो यह भी संभव है कि इस सेवा में जाने की संभावना कई गुना बढ़ जाती है, और अभ्यार्थी सफलता पूर्वक इस प्रतिष्ठित सेवा में अपना भविष्य निर्धारित कर सकते हैं ।

आज हर कोई सरकारी नौकरी पाना चाहता है जिसके लिए सभी बहुत मेहनत करते है। लेकिन इसके बावजूद भी वे उसमें सफलता हासिल नहीं कर पाते है, जिसका कारण है जानकारी का आभाव होना। क्योंकि बहुत से स्टूडेंट्स को आईएएस योग्यता, आईएएस के लिए आयु, आईएएस के कार्य और आईएएस का सिलेबस आदि के बारे में पता नहीं होता जिस कारण से वे एक सही रणनीति से IAS Exam की तैयारी नहीं कर पाते। इसलिए उन स्टूडेंट्स की समस्या को ध्यान में रखते हुए आज हम हमारी इस पोस्ट में आईएएस की तैयारी कैसे करें के बारे में बताने जा रहे है।

आप IAS Officer या अन्य पदों को UPSC की परीक्षा देकर  प्राप्त कर सकते है। IAS की तैयारी करने के लिए एक साल पर्याप्त माना जाता है, लेकिन यह विद्यार्थियों की सोच और क्षमता पर निर्भर करता है। क्योंकि किसी विद्यार्थी के लिए 6 महीने भी काफी होते है तो किसी के लिए तीन साल भी नहीं। कभी भी ऐसा न समझे की हम कमज़ोर है वरना आप किसी भी परीक्षा को पास नही कर पाएंगे इसलिए निराश होने की जगह हम मेहनत करके अपनी क्षमताओं को बढ़ा सकते है।

 

IAS Ka Matlab प्रशासनिक सेवा अधिकारी होता है। IAS परीक्षा हमारे देश में सबसे कठिन और प्रतिष्ठित परीक्षाओं में से एक मानी जाती है जिसे संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा आयोजित किया जाता है। UPSC (Union Public Service Commission) भारत की केंद्रीय संस्था है। यह संस्था सीविल परीक्षा जैसे- IAS, IPS, IFS, NDA, CDS जैसी लगभग 24 पदों के लिए परीक्षा का आयोजन करती है जो उम्मीदवार सिविल सर्विस की परीक्षा में सबसे Top रैंक हासिल करते है उन उम्मीदवार को आईएएस अधिकारी बनाया जाता है। 

 

IAS Ki Tayari Kaise Kare

सबसे पहले हमे आईएएस का सिलेबस पता होना चाहिए क्योंकि जब हमारे पास सही सिलेबस होगा तभी हम सही रणनीति बनाकर सफलता प्राप्त कर पाएंगे। UPSC द्वारा आईएएस एग्जाम को प्रत्येक वर्ष में आयोजित किया है। इसके अलावा आप UPSC की वेबसाइट से भी IAS एग्जाम डेट, एप्लीकेशन फॉर्म, एडमिट कार्ड, रिजल्ट आदि के बारे में जान सकते है। आईये अब जानते है IAS Eligibility के बारे में।

 

IAS Ki Tayari Ke Liye Qualification 

IAS की परीक्षा में शामिल होने के लिए आपके पास निचे बताई गयी क्वालिफिकेशन होना अनिवार्य है अन्यथा आप IAS एग्जाम के लिए आवेदन नहीं कर सकते।

आवेदक का किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक (ग्रेजुएट) होना आवश्यक है। यदि आप स्नातक के अंतिम वर्ष में है या परिणाम का इंतज़ार कर रहे तब भी आप इस परीक्षा में भाग ले सकते है। किन्तु मुख्य परीक्षा में भाग लेने से पहले आपको आवेदन पत्र के साथ न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता की डिग्री देना आवश्यक होगी।

 

IAS Ki Age Limit

IAS के लिए न्यूनतम आयु सीमा 21 वर्ष है जबकि अधिकतम आयु सीमा हर वर्ग के हिसाब से अलग-अलग निर्धारित की गयी है। इसके अलावा कुछ विशेष वर्ग को इसमें छूट दी जाती है।

 

General Category – 32 वर्ष

OBC – 35 वर्ष (3 वर्ष की छूट)

SC/ST – 37 वर्ष (5 वर्ष की छूट)

EWS – 32 वर्ष (कोई छूट नहीं)

विकलांग – 42 वर्ष (10 वर्ष की छूट)

 

IAS बनने के लिए आपको IAS की परीक्षा को पास करना होगा। यह परीक्षा 3 चरणों में होती है. जिसके बारे में आपको नीचे बताया है, तथा जो

उम्मीदवार इस परीक्षा में उत्तीर्ण होते है उन्हें उनके रैंक के अनुसार IAS या अन्य अधिकारी बनाया जाता है।

 

  • प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Examination)
  • मुख्य परीक्षा (Main Examination)
  • साक्षात्कार (Interview)

 

प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam)

प्रारंभिक परीक्षा IAS की 1st स्टेज होती है जिसे क्लियर करने के बाद उम्मीदवार इसकी 2nd स्टेज यानि मुख्य परीक्षा में शामिल हो सकते है। UPSC द्वारा आयोजित सिविल परीक्षा में नई परीक्षा प्रणाली के अनुसार वर्तमान में प्रारंभिक परीक्षा में दो प्रश्नपत्र होते है जनरल एबिलिटी टेस्ट और सिविल सर्विस एप्टीटुड टेस्ट। यह क्वालीफाइंग पेपर के रूप में होते है दोनों प्रश्नपत्र 200 – 200 अंको के होते है।

 

IAS Syllabus For Paper-1

पेपर-1 में 200 मार्क्स के ऑब्जेक्टिव टाइप प्रश्न पूछे जाते है जिसके लिए 2 घंटे का समय दिया जाता है। 

 

वर्तमान मामले (CURRENT AFFAIRS) – राष्ट्रीय और अन्तर्राष्ट्रीय महत्व की वर्तमान घटनाये

सामान्य विज्ञान (GENERAL SCIENCE)

भारत का इतिहास (HISTORY OF INDIA)

पर्यावरण (ENVIRONMENT) – जलवायु परिवर्तन, जैव विविधता, पर्यावरण पारिस्थिकी

भारतीय राजनीति और शासन (INDIAN POLITY & GOVERNANCE) – संविधान, राजनीतिक प्रणाली, पंचायती राज आदि।

विश्व और भारतीय भूगोल (GEOGRAPHY) – अधिकारों के मुद्दे , भारत और दुनिया के आर्थिक व भौतिक भूगोल

सामाजिक विकास और आर्थिक (SOCIAL DEVELOPMENT & ECONOMIC) – सामाजिक क्षेत्र की पहल, सतत विकास, समावेश, जनसांख्यकी और गरीबी।

 

IAS Syllabus For Paper-2

इसमें भी 200 मार्क्स के ऑब्जेक्टिव टाइप प्रश्न पूछे जाते है जिसके लिए 2 घंटे का समय दिया जाता है।

 

समस्या को हल करना और निर्णय लेना (PROBLEM SOLVING OR DECISION MAKING)

सामान्य मानसिक योग्यता (GENERAL MENTAL ABILITY)

समझ (COMPREHENSION)

डेटा व्याख्या (DATA INTERPRETATION)

विश्लेषणात्मक क्षमता और तार्किक तर्क (ANALYTICAL & LOGICAL REASONING)

संचार कौशल सहित पारस्परिक कौशल (INTERPERSONAL SKILLS INCLUDING COMMUNICATION SKILLS)

 

मुख्य परीक्षा (Main Exam)

सिविल सेवा परीक्षा का दूसरा चरण मुख्य परीक्षा होती है। उम्मीदवार प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण होने के पश्चात् ही मुख्य परीक्षा दे सकते है। इसके लिए उम्मीदवारो को लगभग 2 से 3 महीने का समय दिया जाता है। जिस प्रकार प्रारंभिक परीक्षा पूरी तरह वस्तुनिष्ठ (OBJECTIVE) प्रश्न पर आधारित होती है उसके विपरीत मुख्य परीक्षा में अलग-अलग शब्द सीमा वाले वर्णात्मक प्रश्न पूछे जाते है जिसमें अपने शब्दों में हमें उत्तर लिखना होता है। इसमें सफल होने के लिए अच्छी लेखन शैली की आवश्यकता होती है। IAS की परीक्षा में विषयों का चयन एक महत्वपूर्ण चरण होता है इसी पर आपकी सफलता निर्धारित होती है।

 

मुख्य परीक्षा के प्रश्नपत्र:

प्रश्नपत्र 1

निबंध

 

प्रश्नपत्र 2

सामान्य अध्ययन 1 (संस्कृति और भारतीय विरासत, विश्व का इतिहास और भूगोल)

 

प्रश्नपत्र 3

सामान्य अध्ययन 2 (संविधान,प्रशासन, राजनीति, सामाजिक न्याय तथा अन्तर्राष्ट्रीय संबंध)

 

प्रश्नपत्र 4

सामान्य अध्ययन 3 (आर्थिक विकास,जैव विविधता, पर्यावरण, प्रौद्योगिकी,आपदा प्रबंधन)

 

प्रश्नपत्र 5

सामान्य अध्ययन 4 (अभिवृत्ति, सत्यनिष्ठा)

 

प्रश्नपत्र 6

वैकल्पिक विषय – पेपर 1



प्रश्नपत्र 7

वैकल्पिक विषय – पेपर 2

 

 

साक्षात्कार (Interview)

प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा पास करने के बाद उम्मीदवार का साक्षात्कार लिया जाता है। यह IAS एग्जाम या UPSC का अंतिम चरण इंटरव्यू होता है जिसमें सफल होने पर आपकी नौकरी पक्की हो जाती है। IAS एग्जाम के इंटरव्यू का कोई पैटर्न नही होता है ये किसी भी विषय से जुड़ा हो सकता है आईएएस इंटरव्यू के सवाल थोड़े अलग टाइप के हो सकते है।

 



ADD COMMENT