भारत में शिक्षा का विकास

About Chapter

आधुनिक भारत में शिक्षा का विकास

भारत में अंग्रेजों ने प्रथम मदरसा कहां स्थापित किया था - कलकत्ता में        U.P.P.C.S. (Pre) 2006

  • 1781 में वारेन हेस्टिंग्स ने कलकत्ता में मदरसा की स्थापना की थी।
  • इसके प्रथम प्रमुख (नाजिन) मुल्ला मुजदुद्दीन थे।
  • इस मदरसे में फारसी, अरबी और मुस्लिम कानून पढ़ाया जाता था और इसके स्नातक ब्रिटिशराज में दुभाषिए के रुप में सहायता करते थे।

किसे पेरिस की रॉयल एशियाटिक सोसायटी की सदस्यता प्रदान की गई थी - माइकल मधुसूदन दत्त        U.P.P.C.S. (Mains) 2007

  • पेरिस की रॉयल एशियाटिक सोसायटी की सदस्यता माइकल मधुसूदन दत्त को प्रदान की गई थी।
  • दादाभाई नौरोजी 1892 - 95 तक ब्रिटिश संसद के सदस्य रहे।
  • राजा राममोहन राय ने 1828 में ब्रह्म समाज की स्थापना की थी।
  • स्वामी विवेकानंद ने 1893 में हुई धर्मों की संसद में भाग लिया और 1897 में रामकृष्ण मिशन की स्थापना की।

एशियाटिक सोसाइटी ऑफ बंगाल के संस्थापक थे - सर विलियम जोंस        R.A.S./R.T.S. (Pre) 1999/U.P.P.C.S. (Mains) 2006/P.C.S. (Pre) 2003/U.P.P.C.S. (Spl) (Mains) 2004

  • ब्रिटिश सरकार ने प्रारंभ में शिक्षा के विकास में नहीं के बराबर रुचि ली।
  • वारेन हेस्टिंग्स ने भारतीय शिक्षा के पुनर्जीवन को प्रोत्साहित किया।
  • 1781 में उसने कलकत्ता मदरसे की स्थापना की जिसमें फारसी और अरबी का अध्ययन किया जाता था।
  • उसने प्राचीन विधाओं तथा साहित्य को संरक्षण दिया।
  • वह अरबी तथा फारसी जानता था और बांग्ला बोल सकता था।
  • उसने चार्ल्स विल्किंस के गीता के प्रथम अनुवाद की प्रस्तावना लिखी।
  • 1784 में हेस्टिंग्स के सहयोगी सर विलियम जोंस ने एशियाटिक सोसाइटी ऑफ बंगाल की स्थापना की ताकि एशिया के सामाजिक तथा प्राकृतिक इतिहास, पुरातत्व संबंधी कला, विज्ञान तथा साहित्य का अध्ययन किया जा सके।
  • 1791 में बनारस के ब्रिटिश रेजिडेंट जोनाथन डंकन के प्रयत्नों के फलस्वरुप बनारस में एक (प्रथम) संस्कृत कालेज खोला गया जिसका उद्देश्य हिंदुओं के धर्म, साहित्य और कानून का अध्ययन करना था।

हिंदी का पहला समाचार - पत्र उदत्त मार्तंड (30 मई, 1826) प्रकाशित हुआ था - कोलकात्ता से        U.P.P.C.S. (Pre) 2016        

  • उदत्त मार्तंड हिंदी का पहला समाचार - पत्र था।
  • इसका प्रकाशन मई, 1826 ई. में कोलकात्ता से एक सप्ताहिक - पत्र के रुप में शुरु हुआ।
  • इसके प्रकाशक एवं संपादक जुगुल किशोर शुक्ल थे।

अंग्रेजों में से कौन था जिसने सर्वप्रथम भगवदगीता का अंग्रेजी में अनुवाद किया था - चार्ल्स विल्किंस        I.A.S. (Pre) 2001

  • वॉरेन हेस्टिंग्स के काल में चार्ल्स विल्किंस ने भगवदगीता का प्रथम आंग्ल अनुवाद किया, जिसकी प्रस्तावना स्वयं वॉरेन हेस्टिंग्स ने लिखी।
  • वॉरेन हेस्टिंग्स की प्रेरणा से विल्किंस, हॉलहेड तथा सर विलियम जोंस इत्यादि विद्वानों ने प्राचीन भारतीय पुस्तकों का अध्ययन किया तथा उत्तरकालीन प्राच्य विद्या के अध्ययन के कार्य को बढ़ावा दिया।
  • विल्किंस ने फारसी तथा बांग्ला मुद्रण के लिए ढलाई के अक्षरों का अविष्कार किया।
  • हॉलहेड ने 1778 में संस्कृत व्याकरण प्रकाशित किया।

किसने कालिदास की प्रसिद्ध रचना शकुंतला का पहली बार अंग्रेजी में अनुवाद किया था - सर विलियम जोंस ने        U.P.U.D.A./L.D.A. (Mains) 2010

  • सर विलियम जोंस वॉरेन हेस्टिंग्स के समय कलकत्ता उच्चत्तम न्यायालय के न्यायधीश नियुक्त हुए।
  • इनकी प्रेरणा पर 1784 में एशियाटिक सोसायटी की स्थापना हुई एवं ये स्वयं इसके सभापति नियुक्त हुए।
  • इस संस्था ने एशियाटिक रिसर्जेज नामक पत्रिका के माध्यम से भारत के अतीत को प्रकाश में लाने का कार्य किया।
  • इसी क्रम में इन्होंने 1789 में कालिदास रचित अभिज्ञान शाकुंतलम का अंग्रेजी में अनुवाद किया एवं इसके पांच संस्करण प्रकाशित किए।

ब्रिटिश सरकार के किस अधिनियम ने सबसे पहली बार भारत में शिक्षा के लिए एक लाख रुपये दिए थे - चार्टर अधिनियम, 1813        U.P.P.C.S. (Mains) 2009

  • 1813 से पूर्व मिशनरी दलों और कभी - कभी ईस्ट इंडिया कंपनी ने नई शिक्षा प्रणाली लागू करने के लिए प्रयास किए थे, परंतु इनकी सम्मिलित उपलब्धि अत्यन्त सीमित थी।
  • 1813 के चार्टर अधिनियम के तहत कंपनी ने पहली बार शिक्षा के प्रति सरकारी उत्तरदायित्व उठाया।
  • प्रति वर्ष शिक्षा के लिए एक लाख रुपये खर्च करने की व्यवस्था इस अधिनियम ने की थी।

हंटर कमीशन की रिपोर्ट में विकास पर विशेष जोर दिया गया - प्राथमिक शिक्षा को        U.P.P.C.S. (Pre) 2004/U.P. Lower Sub.(Pre) 2004

  • 1854 के पश्चात शिक्षा के क्षेत्र में हुई प्रगति की समीक्षा करने के लिए 1882 में डब्ल्यू. डब्ल्यू. हंटर की अध्यक्षता में एक आयोग नियुक्त किया गया।
  • इसका कार्य विश्वविद्यालयों के कार्यों की समीक्षा करना नहीं था, इसे केवल प्राथमिक और माध्यमिक शिक्षा की समीक्षा तक ही सीमित रहना था।
  • इस आयोग की रिपोर्ट में प्राथमिक शिक्षा के सुधार एवं विकास पर विशेष जोर दिया गया था।

चार्ल्स वुड का आदेश - पत्र किससे संबंधित था - शिक्षा        M.P.P.C.S. (Pre) 2015

  • वुड घोषणा - पत्र बोर्ड ऑफ कंट्रोल के प्रधान चार्ल्स वुड द्वारा 19 जुलाई, 1854 को जारी किया गया था।
  • इस घोषणा - पत्र में भारतीय शिक्षा पर एक व्यापक योजना प्रस्तुत की गई थी, जिसे वुड का डिस्पैच कहा गया।
  • 100 अनुच्छेदों वाले इस प्रस्ताव में शिक्षा के उद्देश्य, माध्यम, सुधारों आदि पर विचार किया गया था।
  • इस घोषणा - पत्र को भारतीय शिक्षा का मैग्नाकार्टा भी कहा जाता है।
  • प्रस्ताव में सरकार ने पाश्चात्य शिक्षा के प्रसार को अपना उद्देश्य बनाया।
  • उच्च शिक्षा को अंग्रेजी भाषा के माध्यम से दिए जाने पर बल दिया गया, परंतु साथ ही देशी भाषा के विकास को भी महत्व दिया गया।
  • इसके अनुसार लंदन विश्वविद्यालय के आधार पर कलकत्ता बंबई एवं मद्रास में एक - एक विश्वविद्यालय की स्थापना की व्यवस्था की गई।

शिक्षा में सुधार हेतु ब्रिटिश सरकार ने सैडलर विश्वविद्यालय आयोग कब नियुक्त किया - 1917        B.P.S.C. (Pre) 2008

नेशनल काउंसिल ऑफ एजुकेशन की स्थापना कब हुई - 15 अगस्त, 1906        B.P.S.C. (Pre) 2011        

  • राष्ट्रीय शिक्षा के क्षेत्र में सर्वप्रथम 8 नवंबर, 1905 ई. को रंगपुर नेशनल स्कूल की स्थापना हुई।
  • 16 नवंबर, 1905 में कलकत्ता में एक सम्मेलन का आयोजन किया गया।
  • इस सम्मेलन में राष्ट्रीय साहित्यिक, वैज्ञानिक और तकनीकी शिक्षा देने के लिए राष्ट्रीय शिक्षा परिषद स्थापित करने का फैसला हुआ।
  • 15 अगस्त, 1906 ई. को सदगुरु दास बनर्जी द्वारा, राष्ट्रीय शिक्षा परिषद की स्थापना की गई।

भारत के औपनिवेशिक काम में अधोमुखी निस्यंदन सिंद्धात किस क्षेत्र से संबंधित था - शिक्षा          R.A.S./R.T.S. (Pre) 2013       

  • भारत के औपनिवेशिक काल में, अधोमुखी निस्यंदन सिंद्धात शिक्षा के क्षेत्र से संबंधित था।
  • इस सिद्धांत का अर्थ था कि, शिक्षा समाज के उच्च वर्ग को ही दी जाए, इस वर्ग से छन - छनकर ही शिक्षा का असर जन सामान्य तक पहुँचे।
  • मैकाले का कहना था कि सीमित साधनों से समस्त जनता को शिक्षित करना अंसभव है।

सैडलर आयोग संबंधित था - शिक्षा से        U.P. Lower Sub. (Spl) (Pre) 2010     

  • सैडलर आयोग शिक्षा से संबंधित था।
  • 1917 में सरकार ने कलकत्ता विश्वविद्यालय की संभावनाओं के अध्ययन तथा रिपोर्ट के लिए एक आयोग नियुक्त किया।
  • डॉ. एम. ई. सैडलर, जो लीड्स विश्वविद्यालय के उपकुलपति थे, इसके अध्यक्ष नियुक्त किए गए।
  • इस आयोग को कलकत्ता विश्वविद्यालय की शिक्षा पर अपनी रिपोर्ट देने को कहा गया था।
  • इस आयोग का यह विचार था कि यदि विश्वविद्यालय शिक्षा का सुधार करना है तो माध्यमिक शिक्षा का सुधार आवश्यक है।
  • इसने 1904 के विश्वविद्यालय अधिनियम की कड़ी निंदा की और यह भी बताया कि इससे कालेज तथा विश्वविद्यालय शिक्षा का ठीक - ठीक समन्वय नहीं हो सकता है।
  • यद्यपि यह रिपोर्ट केवल कलकत्ता विश्वविद्यालय के विषय में थी परंतु यह अन्य विश्वविद्यालयों के विषय में भी सत्य थी।

लॉर्ड मैकाले संबंधित थे - अंग्रेजी शिक्षा से         U.P.P.C.S. (Pre) 2007        

  • भारतीय शिक्षा पद्धति में भाषा संबंधी विवाद पर अपना विवरण देने के लिए विलियम बेंटिक ने अपनी कौंसिल के विधि - सदस्य लॉर्ड मैकाले को लोक शिक्षा समिति का प्रमुख नियुक्त किया।
  • मैकाले ने भारत में शिक्षा हेतु अंग्रेजी भाषा का समर्थन किया था।

भारत में आधुनिक शिक्षा प्रणाली की नींव किससे पड़ी - 1835 के मैकाले के स्मरण पत्र        I.A.S. (Pre) 1993

  • भारत में आधुनिक शिक्षा प्रणाली की नींव 1835 के मैकाले के स्मरण पत्र से पड़ी।
  • मैकाले ने भारतीय रीति - रिवाजों के लिए अपनी तिरस्कार इन शब्दों में व्यक्त किया ---- यूरोप के एक अच्छे पुस्तकालय की एक आलमारी का एक कक्ष, भारत और अरब के समस्त साहित्य से अधिक मूल्यवान है।
  • लॉर्ड विलियम बेंटिक के काल में 7 मार्च, 1835 के प्रस्ताव द्वारा मैकाले का दृष्टिकोण अपना लिया गया।

डेक्कन एजुकेशनल सोसाइटी की स्थापना से कौन संबंधित था - बी.जी. तिलक         U.P.P.C.S. (Pre) 2013/ U.P.U.D.A./L.D.A. (Spl) (Pre) 2010

  • डेक्कन एजुकेशनल सोसाइटी की स्थापना वर्ष 1880 में मूलतः न्यू इंग्लिश स्कूल के प्रारंभ के साथ पुणे में की गई थी तथा वर्ष 1884 में डेक्कन एजुकेशन सोसाइटी औपचारिक रुप से गठित की गई।
  • इस संस्था के संस्थापको में वी.के. चिपलुकंर, बी.जी. तिलक एवं एम.बी. नामजोशी प्रमुख थे।

भारत में प्रथम तीन विश्वविद्यालय (कलकत्ता, मद्रास, बंबई) की स्थापना किस वर्ष में हुई - 1857         R.A.S./R.T.S. (Pre) 2010        

  • भारतीय शिक्षा का मैग्नाकार्टा कहे जाने वाले 1854 के चार्ल्स वुड के डिस्पैच को आधार बनाकर लंदन विश्वविद्यालय की तर्ज पर ब्रिटिश भारत में तीन विश्वविद्यालय कलकत्ता, मद्रास एवं बंबई की स्थापना 1857 में की गई थी।

किसके शासनकाल में भारत में अंग्रेजी शिक्षा आरंभ की गई - लॉर्ड विलियम केवेंडिश बेंटिक        U.P.P.C.S. (Mains) 2011       

  • गवर्नर जनरल लॉर्ड विलियम केवेंडिश बेंटिक (1828 - 35 ई.) के शासनकाल में 7 मार्च, 1835 को लॉर्ड मैकाले के प्रस्ताव को स्वीकृत कर भारत में अंग्रेजी को उच्च शिक्षा का माध्यम मान लिया गया।
  • भारत में आंग्ल शिक्षा के समर्थकों का नेतृत्व मुनरो एवं एल्फिंसटन ने किया था जबकि एच.टी. प्रिसेंप प्राच्य शिक्षा के समर्थकों के नेतृत्वकर्ता थे।

किसके सतत प्रयत्नों से बंबई में प्रथम महिला विश्वविद्यालय की स्थापना हुई - डी.के.कर्वे        U.P.U.D.A./L.D.A.  (Pre) 2006/U.P.P.C.S. (GIC) 2010/U.P.P.C.S. (Mains) 2002      

  • डी.के.कर्वे के प्रयत्नों से बंबई में प्रथम महिला विश्वविद्यालय की स्थापना हुई।
  • ये महाराष्ट्र के समाज सुधारक एवं सामाजिक कार्यकर्ता थे।
  • इन्होंने विधवाओं के उत्थान के लिए विधवा विवाह प्रतिबंध निवारक मंडली की भी स्थापना की थी।
  • 1896 ई. में उन्होंने पूना में विधवा गृह की स्थापना की थी।
  • उन्होंने स्वयं एक ब्राह्मणी विधवा से विवाह किया था।
  • 1958 ई. में इन्हें भारत रत्न प्रदान किया गया।
Show less

Exam List

भारत में शिक्षा का विकास - 01
  • Question 20
  • Min. marks(Percent) 50
  • Time 20
  • language Hin & Eng.
भारत में शिक्षा का विकास - 02
  • Question 20
  • Min. marks(Percent) 50
  • Time 20
  • language Hin & Eng.
ब्रिटिश कालीन शिक्षा एवं अर्थव्यवस्था
  • Question 37
  • Min. marks(Percent) 50
  • Time 30
  • language Hin & Eng.
Current Affairs
Test
Classes
E-Book