UPSSSC PET Live Test 22 August 2021

01. निम्नलिखित में से ‘समानार्थी शब्द का कौन सा जोड़ा सही नहीं है’-

  • 1

    दाँत-दंत, रदन

  • 2

    चाँद-राकेश, राशि

  • 3

    झंडा-ध्वज, पताका

  • 4

    कमल-अंबु, आब

02. ‘साध्वाचरण’ का संधि-विच्छेद किस क्रम में है -

  • 1

    साध + चरण

  • 2

    साधव + चरण

  • 3

    साधु + आचरण

  • 4

    साध + आचरण

04. ‘नैसर्गिक’ का विलोम है -

  • 1

    प्राकृतिक

  • 2

    अप्राकृतिक

  • 3

    अस्वाभाविक

  • 4

    कृत्रिम

05. ‘मोक्ष की इच्छा रखने वाला’ क्या कहलाता है -

  • 1

    कर्मठ

  • 2

    मुमुक्षु

  • 3

    उत्सुक

  • 4

    जिज्ञासु

06. ‘नियत - नीयत’ शब्द-युग्म के सही अर्थ युग्म के सही अर्थ-भेद का चयन कीजिए -

  • 1

    इरादा - भाग्य

  • 2

    इरादा - निश्चित

  • 3

    निश्चित - इरादा

  • 4

    भाग्य - निश्चित

08. टुक-टूक में समश्रुति भिन्नार्थक शब्द हैं -

  • 1

    अंश-अल्प

  • 2

    ज्यादा-हिसना

  • 3

    थोड़ा-टुकड़ा

  • 4

    अधिक-टुकड़ा

10. गद्यांश - शिक्षा को वैज्ञानिक और प्रविधिक मूलाधार देकर हमने जहाँ भौतिक परिवेश को पूर्णतया परिवर्तित कर दिया है और जीवन को अप्रत्याशित गतिशीलता दे दी है, वहाँ साहित्य, कला, धर्म और दर्शन को अपनी चेतना से बहिष्कृत कर मानव विकास को एकांगी बना दिया है। पिछली शताब्दी में विकास के सूत्र प्रकृति के हाथ से निकलकर मनुष्य के हाथ में पहुँच गए हैं, विज्ञान के हॉथ में पहुँच गए हैं और इस बंद गली में पहुँचने का अर्थ मानव जाति का नाश भी हो सकता है। इसलिए नैतिक और आत्मिक मूल्यों के साथ-साथ विकसित करने की आवश्यकता है, जिससे विज्ञान हमारे लिए भस्मासुर का हाथ न बन जाए। व्यक्ति की क्षुद्रता यदि राष्ट्र की क्षुद्रता बन जाती है, तो विज्ञान भस्मासुर बन जाता है। इस सत्य को प्रत्येक क्षण सामने रखकर ही अणु-विस्फोटक को मानव प्रेम और लोकहित की मर्यादा दे सकेंगे। अपरिसीम भौतिक शक्तियों का स्वामी मानव आज अपने व्यक्तित्व के प्रति आस्थावान नहीं है और प्रत्येक क्षण अपने अस्तित्व के संबंध में शंकाग्रस्त है। अणु-विस्फोटक को मानवतावाद की मर्यादा देना तभी संभव है, जब व्यक्ति की -

  • 1

    क्षुद्र भावनाओं का उन्नयन हो

  • 2

    उदात भावनाओं को विकसित किया जाए

  • 3

    क्षुद्रता को राष्ट्र की क्षुद्रता न बनने दिया जाए

  • 4

    क्षुद्रता जब राष्ट्र की क्षुद्रता बन जाए

Page 1 Of 10
Current Affairs
Test
Classes
E-Book